क्रिकेट विश्व कप की कहानी जोस चाको की कलम से – 2

प्रस्तुति : जोस चाको

दूसरा वर्ल्ड कप ९ जून से २३ जून १९७९ तक England में ।१- फ़ाइनल मैच वेस्ट इंडीस bt England by ९२ रन ।England ने टॉस जीतकर वेस्ट इंडीस को बेटिंग के लिए बुलाया ।वेस्ट इंडीस ने अपने ६० ओवर में ९ विकेट पर २८६ रन बनाए ।इसमें विव Richards ने १५७ बोल में नाबाद १३८ रन बनाए ।इसमें ११ फ़ोर व ३ sixes मारे ।इन छकों में Richards ने अंतिम गेंद में handricks के यॉर्कर पर सिक्स मारा ।कोलीस किंग ने ६६ बोल में ८६ रन बनाए ।एक समय वेस्ट इंडीस के ४ विकेट पर ९९ हो गये थे लेकिन Richards व king पाँचवे विकेट के लिए १३९ रन बनाए ।England ने पहले विकेट के लिए कप्तान माइक brearley व boycott १२९ रन की साझेदारी की।एक समय Englandका स्कोर २ विकेट १८३ था । लेकिन गार्नर की घातक गेंदबाज़ी से England के ८ विकेट मात्र ११ रन पर खो दिए ।पुरी टीम १९४ रन पर आउट हो गई ।brearley ने ६४ ,boycott ने ५७, gooch ने ३२ रन बनाए ।वेस्ट इंडीस की ओर से गार्नर ने १२ ओवर में ३८ रन देकर ५ विकेट लिए ।२-इस tournament में भारत ने ३ मैच खेले व तीनो मैच हारे ।वेस्ट इंडीस से ९ विकेट , new Zealand से ८ विकेट व श्री लंका से ४७ रन से हारी ।३-India की ओर से सबसे ज़्यादा रन Viswanath ने १०६ व सबसे ज़्यादा विकेट मोहिंदर अमरनाथ ने ४ विकेट लिए ।कपिल ने २ ।पूरे वर्ल्ड कप में भारत ने मात्र ६ विकेट लिए ।ghavri , बेदी , venketragvan को एक भी विकेट नहीं मीला ।भारत कीं ओर से ७५ व ७९ में कप्तान वेंकट राघवन थे ।इस वर्ल्ड कप में भारत का अब तक का सबसे ख़राब प्रदर्शन था ।३-इस वर्ल्ड कप में सबसे ज़्यादा रन वेस्ट इंडीस के गॉर्डन grenidge ने २५३ व सबसे ज़्यादा विकेट England के माइक handrick ने १० विकेट लिए ।४- इस वर्ल्ड कप में मात्र २ शतक बने ।५-पूरे tournament में किसी भी टीम ने एक पारी में ३०० रन नहीं बनाए ।सबसे ज़्यादा एक पारी में वेस्ट इंडीस ने पाकिस्तान के विरुद्ध ६ विकेट पर २९३ रन बनाए ।५- इस tournamentमें सबसे कम कनाडा ने England के विरुद्ध ४५ बनाए ।अगले अंक में १९८३ वर्ल्ड कप ।