क्रिकेट विश्व कप की कहानी जोस चाको की कलम से – 8

८ वाँ वर्ल्ड कप ९ फ़रवरी मई २००३ से २३ मार्च २००३ में साउथ अफ़्रीका में खेला गया ।फ़ाइनल में ऑस्ट्रेल्या ने इंडिया को एक तरफ़ मुक़ाबले में १२५ से हराया ।टॉस जीतकर ऑस्ट्रेल्या ने पहले बल्लेबाज़ी की ।उन्होंने निर्धारित ५० ओवर में मात्र २ विकेट खोकर ३५९ रन बनाए ।जिसमें Australia की ओर से सबसे ज़्यादा रन उनके कप्तान रिकी पोंटिंग ने १२१ गेंदो में नाबाद १४० रन बनाए । जिसमें ८ छक्के मारे ।ऐडम गिल्क्रिस्ट ने ५७ , हेडन ने ३७ रन ,डेमीयन मार्टिन ने नाबाद ८८ रन बनाए ।भारत की ओर से सिर्फ़ हरभजन सिंह को ही सर्फ़ दो विकेट मिले ।बाक़ी सभी गेंदबाज़ों ने भरपूर रन दिए । श्रीनाथ ने १० में ८७ , ज़हीर ने ७ में ६७, नेहरा ने १० में ५७ रन दिए । सबसे ज़्यादा एक्स्ट्रा रन फ़ाइनल मेच का भी record बना । इस रूप में ३७ रन आये । लक्ष्य का पीछा करते हुवे इण्डिया ३९.१ ओवर में मात्र २३४ रन बना सकी ओर उसके सभी खिलाड़ी आउट हो गए ।ओर यह मेच Australia ने १२५ रन से जीत लिया ।ऑस्ट्रेल्या ने तीसरी बार वर्ल्ड कप जीता ओर तीन बार जीतने वाली पहली टीम बनी ।ऑस्ट्रेल्या की ओर से मकग्राथ ने ३ , ली व saymond ने २-२ विकेट लिए ।रन के हिसाब से यह वर्ल्ड कप की सबसे बड़ी जीत है २-India ने इस वर्ल्ड कप में ११ मैच में ९ जीते २ में हारे ।ओर दोनो मेच ऑस्ट्रेलिया से हारे ३- इस वर्ल्ड कप में इंडिया ऑस्ट्रेलिया से ९ विकेट व १२५ रन से हारा । नेदरलॅंड्स को ६८ रन से ,ज़िम्बाब्वे को ८ ३ रन से , न्यूज़ीलैंड को ७ विकेटसे ,इंडिया ने पाक से को ६ विकेट से हराया व केन्या को ६ विकेट से ,श्री लंका को १८७ रन से ,नामीबिया को १८१रन से हराया , इंग्लैंड को ८२ रन से । ४- इस वर्ल्ड कप में India की ओर से सबसे ज़्यादा रन सचिन ६७३ व सबसे ज़्यादा विकेट श्ज़हीर खान ने १८ विकेट लिए ।५- वर्ल्ड कप में सबसे ज़्यादा रन सचिन ने ६७३ व विकेट श्री लंका के वास ने २३ लिए ।६- फ़ाइनल का मैन ऑफ़ the मेच रिकी पोंटिंग को मिला । ७-इस वर्ल्ड कप India का प्रदर्शन बहुत अच्छा रहा वह ८३ के बाद पहली बार उप विजेता बना ८-इस वर्ल्ड कप में man of the सरीस इण्डिया केसचिन को मिला ।९- अभी तक का रन के हिसाब से सबसे एक तरफ़ा फ़ाइनल रहा । १०-अगला अंक २००७ का वर्ल्ड कप ।