कयाकिंग कैनोइंग के प्रशिक्षण शिविर में न्यायधीश दिलीप गुप्ता ने बच्चों का बढ़ाया मनोबल

भिंड किशोरी पब्लिक स्कूल में कयाकिंग कैनोइंग एसोसिएशन एवं किशोरी स्पोर्ट्स क्लब द्वारा प्रशिक्षण दिया जा रहा है इस प्रशिक्षण में कयाकिंग कैनोइंग के खिलाड़ी बनाने हेतु प्रारंभिक अभ्यास जैसी स्विमिंग और बोट बैलेंस बनाने का प्रशिक्षण चल रहा है प्रशिक्षण राधे गोपाल यादव कयाकिंग कैनोइंग संरक्षक तथा प्रशिक्षक के दिशा निर्देशन में श्रेया यादव निश्चल यादव और अनिल मांझी के द्वारा दिया जा रहा है।
प्रशिक्षण शिविर में बालक बालिकाओं को न्यायधीश दिलीप जी गुप्ता के द्वारा बताया गया अनुशासन से शारीरिक शिक्षा एवं शिक्षा को ग्रहण करना चाहिए, सीखने की कोई उम्र नहीं होती किसी भी उम्र में कोई भी कला अगर सीखने को मिलती है, तो वह सरलता से ग्रहण करनी चाहिए। उन्होंने कहा आज मैंने भी कयाक पर बैलेंस बनाकर और स्विमिंग का अभ्यास कर यही प्रयास किया है। इसी प्रकार से आप लोगों को भी निरंतर कोई ना कोई कला सीखते रहना चाहिए।
इससे पहले राधे गोपाल यादव के द्वारा बताया गया कि इस प्रशिक्षण शिविर में लगभग 100 बालक बालिकाएं भाग ले रहे हैं इसके अलावा कयाकिंग कैनोइंग के लिए राजस्थान धौलपुर ग्वालियर और लखनऊ से भी यहां रहकर वाटर स्पोर्ट्स का अभ्यास प्रारंभ किया है भविष्य में राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय स्तर तक अपनी पहचान बनाने के लिए भिंड कयाकिंग कैनोइंग एसोसिएशन के परिणाम स्वरूप अन्य प्रदेश के बालक बालिका भिंड आने के इच्छुक हैं परंतु इतने बड़े स्तर पर पेडल और बोट की उपलब्धता अभी नहीं है खेल सामग्री के लिए निरंतर प्रयास जारी है आने वाले समय में भिंड राष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ियों के लिए बेहतरीन वाटर स्पोर्ट्स का केंद्र होगा और यह गौरी सरोवर भारत के प्रमुख वाटर स्पोर्ट्स केंद्र के रूप में विख्यात होकर भिंड की पहचान दुनिया में बनाएगा इस अवसर पर आयुषी शर्मा अनुष्का यादव कृतिका मुदगल गौरी के द्वारा द्वारा बोट पर बैलेंस बनाकर प्रदर्शन किया गया और अथर्व सेंग औरर हर्ष देपुरिया ने 1 से 2 घंटे तक पानी में बिना हाथ पैर चलाएं तैराकी करने की क्षमता का प्रदर्शन किया।
स्वयं दिलीप जी गुप्ता ने भी वोट पर बैलेंस बनाने का प्रयास किया इस अवसर पर अमित सिरोठिया राहुल यादव उर्फ भूरे अर्पित मुदगल संजीव श्रीवास्तव कृष्ण गोपाल यादव आदि मौजूद थे??