शतरंज ओलंपियाड की मशाल रिले 4 का साँची स्तूप परिसर में होगा स्वागत


रायसेन ।शतरंज ओलंपियाड की मशाल रिले सोमवार 4 जुलाई को भोपाल से सड़क के रास्ते साँची में दोपहर 3:00 बजे आएगी |मशाल रिले सर्वप्रथम विश्व धरोहर व आइकॉन सीटी साँची स्तूप और पहुँचेगी जहाँ पर एक सेल्फी प्वाइंट बनाया जाएगा ,वहाँ खिलाड़ियों के साथ टॉर्च रिले की सेल्फी होगी तत्पश्चात खिलाड़ियों द्वारा टॉर्च रिले को साँची बौद्ध विश्वविद्यालय ले जाया जाएगा जहाँ पर संक्षिप्त कार्यक्रम आयोजित होगा , कार्यक्रम में माननीय मंत्री मध्य प्रदेश शासन लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग डॉक्टर प्रभु राम चौधरी , जिला कलेक्टर अरविंद दुबे, जिला पुलिस अधीक्षक विकास शाहवाल ,वन संरक्षक अजय कुमार पांडे ,साँची विश्वविद्यालय कुलसचिव अलकेश चतुर्वेदी टॉर्च रिले को ग्रेड मास्टर अनुराग महाबल से रिसीव करेंगे ।स्कूली विद्यार्थियों द्वारा शतरंज भी प्रदर्शन के रूप में खेला जावेगा।कार्यक्रम उपरांत मुख्य वह अन्य अतिथियों द्वारा टॉर्च रिले को ग्रेड मास्टर अनुराग महामल को आगामी यात्रा झाँसी के लिए सौंपा जाएगा ।


मशाल रिले तीन जुलाई को गोवा से मध्य प्रदेश में प्रवेश करेंगी रिले इंदौर से सीधे महाकाल दर्शन करेगी तदोपरांत विक्रम विश्वविद्यालय में कार्यक्रम आयोजित होगा रात्रि में रिले इंदौर पहुँचेगी 4 जुलाई को प्रातः इंदौर में कार्यक्रम उपरांत रिले भोपाल के लिए रवाना होगी।भोपाल में राज्य खेल परिसर में कार्यक्रम होगा , भोपाल से टॉर्च रिले साँची के लिए रवाना होगी ।रिले साँची से झाँसी जाएगी एवं 5 जुलाई को झाँसी से ग्वालियर के लिए प्रस्थान करेगी ।
उल्लेखनीय है कि गत 19 जून को माननीय प्रधानमंत्री जी द्वारा शतरंज ओलंपियाड के 44 वे सत्र से पहले इस प्रतिष्ठित टूर्नामेंट की मशाल रिले को रवाना किया था ।शतरंज ओलंपियाड का आयोजन चेन्नई के समीप महाबलीपुरम में 28 जुलाई से 10 अगस्त 2022 तक किया जा रहा है।मशाल रिले 49 दिनों में 75 शहरों से गुज़रकर महाबलीपुरम पहुँचेगी ।आज़ादी के 75 वे अमृत उत्सव अंतर्गत शतरंज खेल के प्रति जागरूकता लाने के उद्देश्य से मशाल रिले का आयोजन किया जा रहा है ।